Indian Seasons name In Hindi | ऋतुओं के नाम (2021)

seasons name in hindi

आज की पोस्ट Seasons name in hindi में हम आज आपको लेकर आयें हैं, भारतीय मौसम के नामों की सूची हिंदी और अंग्रेजी भाषा में । यहाँ भारत में ऋतुओं के नाम हिंदी / अंग्रेजी में अर्थ के साथ पढ़ें। पृथ्वी सूर्य के चारों ओर घूमती है। जिससे पृथ्वी पर मौसम की स्थिति समय के अनुसार बदलती रहती है। जिससे पृथ्वी पर दिन की अवधि, वर्षा, तापमान में परिवर्तन होता रहता है। हिन्दी मास के अनुसार पृथ्वी पर कुल 6 ऋतुएँ होती हैं। आपको यहां उन ऋतुओं के नामों की जानकारी दी गई है।


Seasons Name in Hindi


ऋतुओं के नाम

भारत में छह प्रकार की ऋतु होती है। बसंत, वर्षा, शरद, ग्रीष्म, हेमंत और शीत ऋतु भारत एक ऐसा एकमात्र देश है। जहां भिन्न भिन्न प्रकार की ऋतु एवं जलवायु परिवर्तन होने के कारण ही यहां के देशवासियों की शारीरिक रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी अधिक होती है। भारत एक ऐसा देश है जहां हर ऋतु का अपना महत्व है और सभी ऋतु किसी त्यौहार से परिपूर्ण है जैसे फसलों की कटाई के समय लोहड़ी, बसंत ऋतु के समय बसंत पंचमी होती है | इसी प्रकार से हर ऋतु का अलग-अलग त्योहार होता है |

6 ऋतुओं के नाम –

  • वसंत ऋतु (Vasant Ritu)
  • ग्रीष्म ऋतु (Greesm Ritu)
  • वर्षा ऋतु (Varsha Ritu)
  • शरद ऋतु (Sharad Ritu)
  • हेमंत ऋतू (Hemant Ritu)
  • शिशिर ऋतू (Winter season)
Sr No.Name Of Seasons
1वसंत ऋतु (Vasant Ritu)
2ग्रीष्म ऋतु (Greesm Ritu)
3वर्षा ऋतु (Varsha Ritu)
4शरद ऋतु (Sharad Ritu)
5हेमंत ऋतू (Hemant Ritu)
6शिशिर ऋतू (Winter season)

Spring Season – (वसंत ऋतु / Vasant Ritu)


spring season
Seasons name in hindi

वसंत ऋतु मनमोहक ऋतु होती है । इस ऋतु में गुलाब, गेंदा, सूरजमुखी, सरसों आदि के फूल बहुतायत में फूलते हैं। वसंत में वृद्धों और बीमारों में भी नवजीवन के संकेत दिखाई देने लगते हैं। जनसमूह नए उल्लास से भर जाता है। इसी उल्लास का प्रतीक है, वसंत पंचमी और होली का त्योहार। ललनाएँ वसंत पंचमी में प्रकृति से सामंजस्य बिठाते हुए पीली साड़ी पहनती हैं। किसान होली के गीत गाते हैं। लोकगीतों की धुन पर सब नाच उठते हैं । वसंत ऋतु प्रकृति का उपहार है। यह बीमारियों को दूर भगाने का काल है।

जब पेड़ों की पत्तियाँ गिरती हैं, जब नई पत्तियाँ निकलती हैं, जब तितलियाँ और प्रकृति उन्हें सजाने लगती हैं, यह वसंत के मौसम का समय है। भारत में यह मौसम मार्च से शुरू होता है और अप्रैल तक रहता है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, चैत्र और बैसाख यह दो महीने इस मौसम में हैं । इसे देश के सबसे खूबसूरत मौसमों में से एक माना जाता है। इस समय के दौरान तापमान 32 °C के आसपास रहता है।
इन मौसम में धीरे-धीरे दिन बड़े और रातें छोटी होती जाती हैं।

बसंत ऋतु के महत्वपूर्ण हिंदू त्योहार –

  • होली (Holi)
  • गुडी पडवा (Gudi Padwa)
  • हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti)
  • बैसाखी (Vaisakhi)
  • राम नवमी (Ram Navami)
  • अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya)
  • भगवान् परशुराम जयंती (Parshuram Jayanti)

इन्हें भी पढ़ें –


Summer Season – (ग्रीष्म ऋतु / Greesm Ritu)


summer season
Seasons name in hindi

ग्रीष्म ऋतु साल का सबसे गर्म मौसम है। यह 15 अप्रैल से शुरू होकर 15 जुलाई तक रहती है। ग्रीष्म ऋतु को ज्येष्ट या आषाढ़ के नाम से भी जाना जाता है। ग्रीष्म ऋतु के दौरान दिन बड़े और रात छोटी होती है। इस मौसम में चलने वाली हवा को लू कहते हैं। नदियों, तालाबों, और झीलों आदि का पानी सुखकर कम होने लगता है। ग्रीष्म ऋतु में गर्मी की वजह से विषैले कीटाणु नष्ट हो जाते हैं। ग्रीष्म ऋतु गरीबों के लिए वरदान होती है क्योंकि वह जहां चाहे सो सकते हैं। ग्रीष्म ऋतु में आम, खरबूजा, खीरा,ककड़ी, तरबूज, आदि खाने को मिलता है। इस मौसम के दौरान, दिन लंबे होते हैं, जबकि रातें छोटी होती हैं।

ग्रीष्म ऋतु के कुछ महत्वपूर्ण त्यौहार

  • भगवान बुद्ध जयंती (Buddha’s Birthday)
  • गंगा दशहरा (Dussehra)
  • निर्जला एकादशी (Nrijala Ekadashi)

Rainy season – (वर्षा ऋतु / Varsha Ritu)


rainy season
Seasons name in hindi

बारिश का मौसम भारत के सभी मौसमों में एक अनूठा मौसम है। यह हर साल गर्मी के मौसम के बाद शुरू होता है और सितंबर के महीने तक रहता है। गर्मी के मौसम में उच्च तापमान के कारण महासागरों, नदियों आदि में बादल भाप के रूप में बनते हैं और बादल आपस में घर्षण करते हैं।

साथ ही इससे बिजली गिरती है और बारिश होती है। यह ऋतु संसार को जीवन देती है, प्यासे को पानी देती है, और मां की तरह सभी पृथ्वी के जीवों का पालन पोषण करती है। भारत में ग्रीष्म ऋतु के ठीक बाद वर्षा ऋतु का आगमन होता है। जुलाई के महीने से पूरे भारत में बारिश होने लगती है जो मानसून की शुरुआत का संकेत देती है। यह मौसम सितम्बर के महीने तक रहता है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार श्रावण और भाद्रपद यह दो महीने बरसात के मौसम हैं ।

वर्षा ऋतु के महत्वपूर्ण त्यौहार –

  • संत कबीर जयंती (Kabir Jayanti)
  • रथ यात्रा उत्सव (Ratha Yatra)
  • गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima)
  • योग दिवस (Yoga Day, 21st june)

Autumn Season(शरद ऋतु / Sharad Ritu)


autumn season
Seasons name in hindi

यह मौसम अक्टूबर से शुरू होता है और नवंबर तक चलता है। अश्विन और कार्तिक के दो हिंदू महीने इसी मौसम में आते हैं। शरद ऋतु वर्षा ऋतु के बाद और हेंमत ऋतु के पूर्व का मौसम है। शरद ऋतु में औसत तापमान 33 °C पर रहता है। शरद ऋतु के आगमन के साथ, प्रकृति बहुत शुद्ध और सुंदर हो जाती है। इसे पतझड़ के नाम से भी जाना जाता है। यह अश्विन से कार्तिक के मध्य होता है इस ऋतु में आद्रता काफी बढ़ जाती है। आकाश से बादलों का धुँधलापन दूर हो जाता है, स्पष्ट चंद्रमा स्पष्ट आकाश में एक झलक की तरह दिखता है।

शरद ऋतु के कुछ त्योहार –

  • श्री कृष्ण जन्माष्टमी व्रत (Krishna janmashtami)
  • शरद नवरात्रे प्रारंभ (Navratri)
  • दुर्गा उत्सव (विजयदशमी)
  • रक्षा बंधन (Raksha Bandhan)

Pre-Winter Season – (हेमंत ऋतू/ Hemant Ritu)


seasons name

शीत ऋतु से पहले का समय हेमंत ऋतु कहलाता है | हेमंत ऋतु शरद ऋतु के बाद और सर्दियों के मौसम से पहले का मौसम है। औसत तापमान 27 डिग्री सेल्सियस पर रहता है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, अग्रायण और पौष, यह दो महीने इस मौसम में आते हैं। पके पीले पत्ते पेड़ों से गिरते हैं ताकि नए पत्ते उनकी जगह ले सकें। यह मौसम, जो नवीनता का एक नया संदेश देता है, प्राकृतिक दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण है।

आयुर्वेद में हेमंत ऋतु को सेहत बनाने की ऋतु कहा गया है। हेमंत में शरीर के दोष शांत स्थिति में होते हैं। अग्नि उच्च होती है इसलिए वर्ष का यह सबसे स्वास्थ्यप्रद मौसम होता है। इस ऋतु में लघु (शीघ्र पचने वाले) तथा वातवर्धक अन्नपान का सेवन नहीं करना चाहिये।

हेमंत ऋतू के महत्वपूर्ण हिंदू त्योहार –

  • अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami)
  • तुलसी विवाह (Tulsi Vivah)
  • महालक्ष्मी पूजन (दिवाली)
  • भाईदूज (Bhai Dooj)
  • गोपाष्टमी (Gopastami)
  • गुरू नानक जयंती (Guru Nanak Jayanti)
  • गोवर्धन पूजा (Govardhan Puja)
  • नरक चतुर्दशी (Naraka Chaturdashi)

Winter Season – (शीत ऋतु / Shishir Ritu)


winter season

भारत में शीत ऋतु वर्ष का सबसे ठंडा मौसम होता है, जिसे आमतौर पर जनवरी (January) और फरवरी (February) के महीने के बीच देखा जाता है। औसत तापमान 23 डिग्री सेल्सियस पर रहता है। शीत ऋतु का जीवनकाल कार्तिक से माघ मास के बीच रहता है। स्वास्थ्य के अनुसार यह ऋतु काफी लाभदायक होती है क्योंकि इस ऋतु में पाचन शक्ति काफी प्रबल होती है। खाद्य अनुसार भी शीत ऋतु काफी महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि इस समय में हरी सब्जियों की भरमार होती है, पालक, गोभी, गाजर इत्यादि जो कि शरीर के लिए लाभदायक होती है।

शिशिर ऋतु के महत्वपूर्ण हिंदू त्योहार –

  • वसंत पंचमी (Basant Panchami)
  • गुरु गोविंद सिंह जयंती (Guru Gobind Singh jayanti)
  • पुत्रदा एकादशी व्रत (Putrada Ekadashi)
  • लोहड़ी पर्व (Lohri)
  • कच्छ रण महोत्सव (Kutchh Rann Mahotsav)
  • बिहू माघ (Bihu Magh)
(Source: Suvichar Kosh)



Final words On Seasons name In Hindi


दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि हमारी पोस्ट seasons name in hindi को पढ़कर आपको सभी ऋतुओं की, उनके नाम क्या हैं ? जानकारी प्राप्त हो गयी होगी, आपको यह जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इस तरह की और अपडेट पाने के लिए इस पोस्ट को शेयर करें और सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें, हमारे साथ जुड़े रहने के लिए हमारे ब्लॉग Aslihindi.com से जुड़े रहें, यहा आपको ऐसे नये-नये टॉपिक्स पर पढ़ने को मिलेगा, जो आपके नालेज को बढ़ाने में कारगर साबित होगा |

Scroll to Top